Mere Sapno Ka Bharat Essay in Hindi | मेरे सपनों का भारत पर निबंध

दोस्तो आज का हमारा विषय है मेरे सपनों का भारत पर निबंध अर्थात mere sapno ka bharat essay in hindi। हमारा भारत कई तरह के सांस्कृतिक एवं वेशभूषा वाला देश है। मैं आपको इस विषय पर आज 100 300 और 500 शब्दों में निबंध लिखकर दूंगा। तो चलिए शुरू करते हैं

100 शब्दों में मेरे सपनों के भारत पर निबंध mere sapno ka bharat essay in hindi

mere sapno ka bharat essay in hindi

हमारा देश बहुत ही संस्कृत एवं वेशभूषा वाला देश है जहां पर हर लोगों की अलग अलग पहनावे एवं भाषाएं हैं। ऐसे में मेरी इच्छा है कि मेरा भारत भ्रष्टाचार मुक्त हो। मेरे कई तरह के सपने अपने भारत के प्रति जैसे शिक्षा का अधिकार सभी बच्चों को दिया जाए चाहे वह लड़का हो या लड़की। जाति में भेदभाव ना हो सभी को एक समान अधिकार दिया जाए ना कोई बड़ा ना कोई छोटा हो। हमारे देश में लड़कियों के ऊपर जितने अत्याचार होते हैं वह सब खत्म हो जाएं यह मेरा सपना है।

300 शब्दों में मेरे सपनों के भारत पर निबंध mere sapno ka bharat essay in hindi

हमारे भारत में कई जाति समुदाय के लोग रहते हैं उनका अलग पहनाओ एवं अलग अलग बोली भाषाएं होती हैं जिस वजह से हमारा देश कहीं ना कहीं अन्य देशों से पीछे रह गया है। मेरा जो सपना है वह है मेरे भारत देश को विकसित देश हो। अन्य देशों की तरह हमारे देश में भी कई तरह के आविष्कार किए जाएं। मेरा सपना यह है कि मेरे भारत देश में पूर्णता शिक्षा और रोजगार के साधन उपलब्ध हो। हर व्यक्ति को पूर्णतः शिक्षा दिया जाए ताकि वह भविष्य में अच्छे रोजगार कर सके।

जब लोगों को पूरी शिक्षा दी जाएगी और वह अच्छे रोजगार करेंगे तब हमारे देश को विकसित देश बनने के लिए कोई भी राष्ट्र रोक नहीं सकता। हमारे देश में अभी भी कई स्थानों पर जाति को लेकर भेदभाव है यह चीज मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है मेरा यह सपना है कि हमारे भारत देश में हर व्यक्ति एक समान हो किसी को किसी भी जाति से मापा ना जाए कि वह छोटी जाति का है। सभी को समान अधिकार दिए जाएं। ऐसा करने से हमारे राष्ट्र में सुख शांति बरकरार रहेगी सभी लोग अच्छे से हंसी खुशी अपना जीवन व्यतीत करेंगे।

हमारे देश में भ्रष्टाचार और अत्याचार बहुत ही तेजी से बढ़ रहे हैं। हमारे देश में महिलाएं असुरक्षित हैं महिलाओं के साथ भेदभाव किया जाता है एवं कई स्थानों पर तो उनकी हत्या कर दी जाती है दहेज के लिए। यह बातें मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है मेरा सपना है कि यह सब चीजें हमारे भारत देश से से नष्ट हो जाए हमारा देश भ्रष्टाचार और अत्याचार मुक्त हो जाए। हमारे देश की महिलाएं भी पुरुषों जैसी जीवन को व्यतीत करें और वह भी समान अधिकार पाए जितना हमारे देश को पुरुषों को दिया गया है।

500 शब्दों में मेरे सपनों का भारत पर निबंध mere sapno ka bharat essay in hindi

भारत एक विकासशील देश है जो प्रतिदिन नए-नए आविष्कार एवं नए-नए चीजों से लोगों को आवृत करा रहा है। हमारे देश में प्रतिदिन नए आविष्कार हो रहे और हमारा देश धीरे-धीरे विकासशील देश होता जा रहा है। लेकिन मेरा यह सपना है कि मेरा देश विकासशील नहीं विकसित देश हो जाए। हमारे देश में अनेक जाति और धर्म के लोग रहते हैं जिस वजह से हमारे देश में पूर्णता विकसित होने को टाइम लग रहा है। मेरा यह सपना है कि मेरा देश जल्द से जल्द विकसित देश बन जाए। हमारे देश में बेरोजगारी बहुत बढ़ चुकी है एवं कई स्थानों पर महिलाओं को शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार नहीं दिया गया है।

जिस वजह से हमारे देश को पूर्णता विकसित नहीं हो पा रहा है। मेरा यह सपना है कि हमारे देश में इतने रोजगार उपलब्ध हो जाएगी कोई भी वयस्क पुरुष या महिला बेरोजगार ना हो सभी के पास अच्छा नौकरी हो ताकि वह अपने जीवन को अच्छे से व्यतीत करें ऐसा होने से हमारा देश सफलता की और और भी तेजी से बढ़ता जाएगा। महिलाओं को शिक्षा प्राप्त करने का अधिकार दिया जाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हमारा देश और भी जल्द विकसित देश बनेगा क्योंकि एक महिला शिक्षित होने से पूरा परिवार शिक्षित हो जाता है।

भ्रष्टाचार और अत्याचार दो ऐसी बीमारियां हैं जो हमारे देश को अंदर ही अंदर खोखला करती जा रही है। हमारे देश में ज्यादातर अत्याचार महिलाओं के ऊपर किया जाता है कहीं पर उनको पैदा होने से पहले मार दिया जाता है और कहीं पर दहेज के लिए मार दिया जाता है।हमारे देश में भ्रष्टाचार में बहुत ही तेजी से वृद्धि कर रहा है यदि किसी के पास पैसा और पहचान है तो वह कुछ भी करके बच सकता है और निर्दोष को सजा मिल जाती है। मेरा यह सपना है कि मेरे देश से अत्याचार और भ्रष्टाचार यह दोनों बीमारियां जड़ से खत्म हो जाए ताकि हमारे देश में महिलाएं अत्याचार से बच सकें और भ्रष्टाचार होने पर हमारे देशवासियों को सम्मान न्याय मिले।

ऐसा होने से हमारा देश और भी जल्द विकसित देश बन जाएगा। जाति और धर्म के नाम पर हमारे देश में कई स्थानों पर दंगे होते हैं जिसमें कई लोगों की जानें चली जाती है और कई बच्चे अनाथ हो जाते हैं। मेरा यह सपना है कि मेरे देश से जात के नाम पर मार झगड़े एवं भेदभाव बंद हो जाए ताकि हर कोई सुख शांति से जी सकें। हमारे संविधान के अनुसार हर एक व्यक्ति को समान अधिकार दिया गया है लेकिन हम मनुष्यों ने जाट के नाम पर किसी को बड़ा और किसी को छोटा बांट दिया है जिस वजह से छोटी जाति के लोगों पर बड़ी जात के लोगों का दबाव बना रहता है।

मेरा सपना है कि हमारा देश का रुपया जो अन्य देशों मैं चलने वाले पैसों से कम है अर्थात हमारे यहां के रुपया का मूल्य कम है वहां से। मेरा सपना है कि मेरे देश का रुपए अन्य देशों से बड़ा हो जाए।

निष्कर्ष
इस ब्लॉग से निष्कर्ष निकलता है कि मेरे सपने अनुसार यदि मेरे देश में बदलाव होते हैं तो मेरा देश बहुत ही जल्दी विकसित और सुख शांति वाला देश बन जाएगा।

दोस्तों अभी हमने आपको इस ब्लॉग में लिखकर बताया mere sapno ka bharat essay in hindi। यदि आप इसी तरह अन्य विषय पर भी निबंध चाहते हैं तो उसके लिए हमें कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Comment