Essay on Importance of Teacher in Hindi | अध्यापक का महत्व पर निबंध हिंदी में

दोस्तों आज हम आपको इस ब्लॉग में लिख कर देंगे अध्यापक का महत्व पर निबंध हिंदी में अर्थात essay on importance of teacher in Hindi। टीचर हमारे जीवन का एक बहुत ही अहम हिस्सा होते हैं इसलिए इन पर निबंध लिखने के लिए हमें यही देते हैं।तो चलिए शुरू करते हैं।

100 शब्दों में अध्यापक का महत्व पर निबंध Essay on Importance of Teacher in Hindi

हमारे जीवन में अध्यापक का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि हमने जो कुछ भी सीखा है हमारे अध्यापक की वजह से ही सीखा है और ऐसा नहीं है कि अध्यापक वही होते हैं जो हमें स्कूल या कॉलेज में पढ़ाते हैं हमारी मां भी हमारी एक अध्यापक ही है क्योंकि सबसे पहले बोलना उन्होंने ही हमें सिखाया। लोगों से किस तरह से बातें करते हैं अपने जीवन में आई समस्याओं का निवारण किस तरह से करते ही है अभी हमें एक अध्यापक द्वारा ही सीखने मिलता है इसलिए शिक्षक हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण होते हैं।

300 शब्दों में अध्यापक का महत्व पर निबंध Essay on Importance of Teacher in Hindi

हमारे जीवन में हर मनुष्य जो हमें कुछ सिखाता या बताता है वह हमारा अध्यापक होता है। हम जब छोटे होते हैं तब हमें हमारी मां हमें बोलना एवं चलना सिखाती हैं इसलिए हमारी पहली अध्यापक एवं शिक्षक हमारी मां होती है। उसके बाद जब हम बड़े होते हैं तो स्कूल या कॉलेजों में जाते हैं तब वहां पर हमें जो हमारे भविष्य बनाने के लिए पढ़ाता है या सिखाता है वह हमारा गुरु या अध्यापक होता है।

हम अपने जीवन में जो कुछ भी सीखते हैं वह एक अध्यापक की वजह से ही सीखते हैं क्योंकि जो चीज हमें पता नहीं होती वह किसी न किसी के बताने के बाद हमें पता चलती है इसलिए जिसने हमें वह बात बताइए सिखाई हुआ हमारा अध्यापक बन गया। अध्यापक का होना जीवन में एक बहुत बड़ा वरदान है भगवान का क्योंकि जब भी हमें किसी भी तरह की समस्या होती है तो हम अपने अध्यापक से ही सलाह लेते हैं चाहे वह स्कूल या कॉलेज में पढ़ाने वाले गुरु या घर पर रहने वाले मां-बाप एवं बड़े बुजुर्ग। शिक्षक के पास ज्ञान का भंडार होता है जो हमें हमारे जीवन में एक कुशल नागरिक बनने के लिए सारी शिक्षाएं देता है जिससे हम एक कुशल नागरिक और अपने जीवन में सुखी रह सकें।

हमारे माता पिता हमारे प्रथम शिक्षक होते हैं जो हमें यह सिखाते हैं कि समाज में किस तरह से रहना है लोगों से किस तरह की बातें करना है। तुम्हारे माता-पिता हमें चलना एवं बोलना सिखाते हैं इसलिए यह हमारे प्रथम अध्यापक होते हैं। हमारे अध्यापक की वजह से ही हम अपने जीवन में कई ऊंची उपलब्धियां प्राप्त करते हैं जैसे डॉक्टर इंजीनियर वकील सैनिक इत्यादि बनते हैं इसके पीछे हमें हमारे गुरुओं द्वारा पढ़ाए गए शिक्षा का हाथ होता है।

500 शब्दों में अध्यापक का महत्व पर निबंध Essay on Importance of Teacher in Hindi

हमारे माता पिता हमारे प्रथम गुरु होते हैं जो हमें समाज में उठना बैठना बोलना सिखाते हैं। यदि हम अपने जीवन में कुछ अच्छे कार्य करते हैं तो इसके पीछे हमारे अध्यापक का ही हाथ होता है क्योंकि उनके सिखाए गए मार्ग पर ही हम अपने जीवन में कुछ प्राप्त कर सकते हैं अन्यथा हमारा जीवन व्यर्थ हो जाएगा। हमे अपने अध्यापक का सम्मान करना चाहिए क्योंकि अगर उनका आशीर्वाद हमारे ऊपर रहेगा तो हम अपने जीवन की किसी भी परीक्षा में पास हो जायेंगे।

पहले के अध्यापक श्यामपट पे पढ़ते थे लेकिन बच्चे उनसे किसी भी तरह का सवाल नही पूछते थे लेकिन आज के समय के आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल करते है आप के अध्यापक। और आज के बच्चें अपने अध्यापक से ढेरो सवाल पूछते है क्युकी उनके आज के समय में सब कुछ जानने को इच्छुक रहते है। हमारे अध्यापक कभी भी यह नही सोचते की उनके बच्चे किसी भी तरह के परीक्षा में उत्तीर्ण ना हो चाहे वो स्कूल का परीक्षा हो जा जीवन का। हमारे अध्यापक हमें पढ़ा लिखा के इतना काबिल बना देते है जिससे हम अपने जीवन में डॉक्टर इंजीनियर वकील सैनिक इत्यादि बन सके।

हमें हमारे किसी भी परिस्थिति में चाहे वह पूरी हो या सही उसमें सही फैसले लेने के बारे में हमें हमारे अध्यापक से खाते हैं इनका बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान होता है हमें एक सफल इंसान बनने में। पूरे साल में 5 सितंबर के दिन शिक्षक दिवस मनाया जाता है जो सभी शिक्षकों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिवस होता है क्योंकि उससे दिन सभी बच्चे उन को फूल देते हैं। और उनको शिक्षक दिवस की बधाइयां देते हैं जिससे टीचरों को बहुत ही गर्व महसूस होता है। कई स्थानों पर शिक्षकों के लिए एक बहुत अच्छा आयोजन किया जाता है जहां पर एक छोटी सी पार्टी मनाई जाती है और सभी लोग अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हैं अपने शिक्षक के सामने।

कुछ लोग शक की बुराइयां करते हैं लेकिन शिक्षक का दिल इतना साफ होता है कि वह उन विद्यार्थियों को भी सफल होने की कामना करते हैं। सभी लोगों को अपने अलग-अलग शिक्षक पसंदीदा होते हैं जैसे मेरे विज्ञान और कला के शिक्षक पसंदीदा है। उनको पढ़ाने की रणनीति बहुत ही अच्छी है जिससे सभी विद्यार्थियों को बहुत अच्छे से किसी भी सवाल का जवाब समझ में आ जाता है। सभी टीचर्स यह कभी भी नहीं चाहते कि किसी भी बच्चे को अधूरा ज्ञान मिले वह सभी ज्यादा से ज्यादा ज्ञान देने की कोशिश करते हैं। उनकी यही कोशिश कई बच्चों की जीवन शैली बदल देती है।

जब भी कोई अध्यापक किसी क्लास में बच्चों को पढ़ाने के लिए जाता है तो वह यह पहले से ही निर्धारित एवं लक्ष्य बनाकर जाता है कि आज के दिन बच्चों को इतनी ज्ञान या शिक्षा अवश्य ही दूंगा। बचपन में जब शिक्षक हमें गृह कार्य देते थे तो हमें यह पसंद नहीं आता था लेकिन जब हम बड़े हुए तब हमें समझ में आया कि शिक्षक के उस गृह कार्य देने की वजह से आज हमारे जीवन में कितने बदलाव हुए हैं।

निष्कर्ष
इस ब्लॉग से यह निष्कर्ष निकलता है कि हमें हमारे गुरुओं का सम्मान करना चाहिए क्योंकि वह हमेशा हमें सही मार्ग पर चलने का रास्ता बताते हैं सही और गलत की पहचान करना सिखाते हैं जिससे हम अपने जीवन में सफल इंसान बन सके।

दोस्तो आप भी मैंने आपको लिखकर दिया essay on teachers in Hindi। यद्यपि या विषय आपको पसंद आया हो तो आप अन्य विषय का भी सुझाव हमें दे सकते हैं हम आपके सुझाव के विषय पर अवश्य ही निबंध बनाएंगे।

Leave a Comment